खबरें चित्तौड़ की-19 सितम्बर,2011 - Apni Maati: News Portal

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

सोमवार, सितंबर 19, 2011

खबरें चित्तौड़ की-19 सितम्बर,2011

चित्तौड़गढ़,19 सितम्बर।

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारण्टी योजना पर जिला स्तरीय नरेगा संवाद का आयोजन 21 सितम्बर को अपरान्ह 4.30 बजे जिला परिषद् ग्रामीण विकास प्रकोष्ठ सभागार में किया जायेगा। अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी बी0एल0 स्वर्णकार से प्राप्त जानकारी के अनुसार  नरेगा संवाद में जनप्रतिनिधिगण, स्वंयसेवी संस्थाएं, मीडियाकर्मी तथा नरेगा रुची रखने वाले जन साधारण भी भाग ले सकेंगे।
’’रबी अभियान, 2011’’ 26 सितम्बर से 15 अक्टूबर तक
 जिले में 26 सितम्बर से 15 अक्टूबर तक रबी अभियान, 2011 का आयोजन किया जायेगा। अभियान के तहत जिले की प्रत्येक ग्राम पंचायत मुख्यालय पर शिविर आयोजित कर कृषकों की समस्याओं का मौके पर ही समाधान किया जायेगा।उप निदेशक कृषि से प्राप्त जानकारी के अनुसार रबी अभियान के दौरान शिविरों में कृषकों के लिए चलाई जा रही कृषि विभाग, उद्यान विभाग, राजस्थान बीज निगम, कृषि विपणन बोर्ड तथा पशुपालन विभाग संबंधी योजनाओं की जानकारी दी जायेगी। कृषकों को विभिन्न अनुदानों के बारे में भी बताया जाएगा तथा मौके पर ही सिंचाई पाईप लाईन, ड्रीप, कृषि यंत्र, पौध संरक्षण, बायो फर्टीलाईजर, खेत तलाई निर्माण एवं किसान क्रेडिट कार्ड से संबंधित प्रार्थना पत्र तैयार करवाये जायेंगे।  अभियान में बीज रथों व आदान विक्रेताओं द्वारा आवश्यक कृषि आदान भी मौके पर ही उपलब्ध करवाये जायेंगे।
जिला परिषद् साधारण सभा की बैठक 29 को
जिला परिषद् चित्तौड़गढ़ की साधारण सभा की बैठक 29 सितम्बर को दोपहर 2 बजे जिला प्रमुख सुशीला जींनगर की अध्यक्षता में आयोजित की जायेगी। जिला परिषद् के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बी0एल0 स्वर्णकार से प्राप्त जानकारी अनुसार बैठक में सामाजिक, आर्थिक, जाति आधारित जनगणना, 2011 पर चर्चा के साथ-साथ जिला परिषद् द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की जायेगी।
अतिवृष्टि से क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत हेतु 62 लाख 10 हजार रू0 स्वीकृत
 सार्वजनिक लोक निमार्ण विभाग खण्ड निम्बाहेड़ा के कार्य क्षेत्र में आने वाले उपखण्ड, भदेसर, डूगंला एवं बड़ीसादड़ी क्षेत्र की अतिवृष्टि से क्षतिग्रस्त सडकों की मरम्मत हेतु 62 लाख 10 हजार रु0 की प्रशासनिक स्वीकृति जारी की गयी है। जिला कलक्टर रवि जैन ने आदेश जारी कर उपखण्ड भदेसर क्षेत्र की सात सड़कों की मरम्मत करने हेतु 14 लाख रु0, उपखण्ड डूंगला क्षेत्र की छः सड़कों की मरम्मत करने हेतु 10 लाख रु0 तथा उपखण्ड बड़ीसादड़ी क्षेत्र की सतरह सड़कों की मरम्मत करने हेतु 38 लाख 10 हजार  रुपये की प्रशासनिक स्वीकृति जारी की है। ये समस्त सड़क मरम्मत कार्य कार्यपालक इंजिनियर लोक निमार्ण विभाग खण्ड निम्बाहेड़ा के माध्यम से करवाये जायेंगे।

मुख्यमंत्री सहायता कोष से 3 लाख 9 हजार रुपये की आर्थिक सहायता 
जिले में विभिन्न सड़क एंव अन्य दुर्घटनाओं में घायलों तथा मृतक आश्रितों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से 3 लाख 9 हजार रुपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गयी है। जिला कलक्टर ने पृथक-पृथक आदेश जारी कर तहसीलदार निम्बाहेड़ा की अनुशंषा पर 7 सितम्बर को मड्डा चौराहे के पास सड़क दुर्घटना में पनास जिला झाबुआ (मध्यप्रदेश) निवासी मृतक अल्लू पिता रामा गामड़ की पत्नी धर्माबाई को, चुमला पिता कान्हा महेड़ा के पुत्र प्रकाश को, जालकी के पति एवं नानूडी के पिता बापू महेरा को, रमेश पिता नंदू की पत्नी रामा बाई को, गली बाई एवं नानजी महेड़ा के पुत्र मड़िया को, कमल पिता लक्ष्मण की पत्नी ज्योति को, लूणा पिता डूंगा के पुत्र दहलिया को, काना पिता गला की पत्नी सुगवा को तथा शंभू पिता कालू के पुत्र कैलाश को 20-20 हजार रुपयें की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है।

तहसीलदार भदेसर की अभिशंषा पर रकमपुरा निवासी दिगपालसिंह की मृत्यु पर पिता मोती सिंह को तथा होड़ा निवासी अमरचंद पिता नारायण की मृत्यु पर उसकी आश्रित पत्नी देऊ बाई को 20-20 हजार रुपयें की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है।इसी तरह तहसीलदार डूंगला की अभिशंषा पर मंगलवाड निवासी श्याम लाल की पत्नी अंगूर बाला को एवं भूरकिया निवासी रघुवीर सिंह की मृत्यु पर उनकी पत्नी कैलाश कंवर को 20-20 हजार रुपयें, चिकारड़ा निवासी ईकरा एवं भूरकिया निवासी जीवनसिंह को घायल होने पर 2-2 हजार रुपये तथा तहसीलदार गंगरार की अभिशंषा पर नोला गाडरी का खेड़ा निवासी विजय सिंह को दुर्घटना में घायल होने पर 5 हजार रुपयें की आर्थिक सहायता मुख्यमंत्री सहायता कोष से स्वीकृत की है।

औचक निरीक्षण में 24 कार्मिक अनुपस्थित मिले
 जिला कलक्टर के निर्देशानुसार उपखण्ड अधिकारी जगदीश हेड़ा एवं जिला रोजगार अधिकारी आलोक शुक्ला द्वारा सोमवार प्रातः 8 राजकीय कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया जिसमें 24 कार्मिक अनुपस्थित पाये गये।उपखण्ड़ अधिकारी से प्राप्त जानकारी अनुसार वाणिज्यकर कार्यालय में सहायक वाणिज्यकर अधिकारी रामस्वरुप मीणा, क. वाणिज्यकर अधिकारी सुरेन्द्र चावड़ा, कर सहायक देवेन्द्र कुमार बैरवा, सीमा कुमारी एवं नेहा जैन, क.लि. विशाल गौड़, मनीष कुमार एवं निलम्बित क.लि. मोती लाल अग्रवाल, वाहन चालक चिरंजी लाल तथा सहा. कर्मचारी मोतिया अनुपस्थित पाये गये।

महिला एवं बाल विकास विभाग में उप निदेशक अजिता शर्मा, क.लि. मांगी लाल तम्बोली, वाहन चालक रघुवीर सिंह एवं माणिया निनामा, राजस्थान वित निगम कार्यालय में जमादार आर.पी. यादव, रीकों कार्यालय में क्षेत्रिय प्रबन्ध विनीत अग्रवाल, सहा.स्थल निरीक्षक गौरव कुमार जाटव तथा व. सहा. एम.पी.शर्मा तथा अधीक्षण अभियंता कार्यालय प.व.स. में अधीक्षण अभियंता डी.पी. दूबे, संस्थापन्न अधिकारी एस.आर. रामचन्दानी, कार्मिक अधिकारी अजय भटनागर, क.लि. अरूण जैन, युनुस अहमद तथा सहायक कर्मचारी सलीम खां अनुपस्थित पाये गये। जिला उद्योग केन्द्र तथा खादी उद्योग बोर्ड,अधिशाषी अभियंता रा.रा.वि.वि.नि. चन्देरिया कार्यालय में सभी कर्मचारी उपस्थित पाये गयें।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

पेज