सरोज श्रीवास्तव, "स्वाति" के काव्य संग्रह का विमोचन - Apni Maati: News Portal

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

सोमवार, मार्च 03, 2014

सरोज श्रीवास्तव, "स्वाति" के काव्य संग्रह का विमोचन


सरोज श्रीवास्तव "स्वाति" के नव-प्रकाशित काव्य संग्रह "कमल पुरइन और तुम" का लोकार्पण दिल्ली के इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में  दिनांक: 1 मार्च 2014 को महामहिम पूर्व राज्यपाल सैयद सिब्ते रज़ी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। इससे पूर्व इस काव्य संग्रह का औपचारिक लोकार्पण एक काव्य गोष्ठी के दौरान प्रख्यात साहित्यकार डॉ. नामवर सिंह के कर-कमलों द्वारा राजस्थान के जयपुर जिले के जवाहर कला केंद्र में दिनांक 15 फरवरी, 2014 को हुआ था।

नई दिल्ली स्थित इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में उक्त अवसर पर साहित्येतर और साहित्य-जगत की प्रसिद्ध हस्तियाँ मौजूद थीं। प्रसिद्ध ग़ज़लकार डॉ. शेरजंग गर्ग, सांसद श्री हरिकेश बहादुर, पूर्व सेक्रेटरी जनरल राज्यसभा--डॉ. योगेन्द्र नारायण के अतिरिक्त श्री उपेन्द्र कुमार, पंकज सिंह, अनिल जोशी, नाटककार दया प्रकाश सिन्हा, रामेश्वर "प्रेम", सीतेश अलोक, नारायण कुमार जैसी विदेशों से प्रवासी साहित्यकार अरुण सब्बरवाल (यू.के.), अनीता कपूर (अमरीका), स्नेह ठाकुर (कनाडा) इस अवसर पर उपस्थित थे।


पुस्तक पर चर्चा करते हुए 'कथा' पत्रिका के संपादक डॉ. अनुज ने सरोज जी की कविताओं पर ध्यान आकृष्ट करते हुए मार्मिक टिप्पणी की कि यद्यपि सार्थक कविता लिखना एक दुष्कर कार्य है तथापि किसी कवयित्री द्वारा कविता लिखा जाना अत्यंत कठिन होता है। दरअसल, किसी कवयित्री की कविताएं नारी की भावनाओं को प्रत्यक्षतः रूपायित करती है। इसके अतिरिक्त, श्री विज्ञान व्रत, सुश्री रमा पांडे, डॉ. कृष्ण कुमार (यू.के.) आदि सभी विद्वानों ने सरोज "स्वाति " की कविताओं की प्रशंसा की। इस अवसर सरोज जी  ने अपनी चुनिन्दा कविताओं का भाव-गुम्फ़ित पाठ भी किया जिसे सभी ने एक सराहा।  
Print Friendly and PDF

1 टिप्पणी:

DR. MANOJ SRIVASTAV ने कहा…

संपादक, 'अपनी माटी' को धन्यवाऍ

डॉ मनोज मोक्षेंद्र

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

पेज