साहित्यिक पत्रिका 'पक्षधर' - Apni Maati: News Portal

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

सोमवार, दिसंबर 02, 2013

साहित्यिक पत्रिका 'पक्षधर'

RNI DELHIN/2011/36192                                                                               ISSN : 2231-1173

पक्षधर पत्रिका का एक इतिहास है | सन् 1975 में इसका पहला अंक हिन्दी के प्रसिद्द कथाकार श्री दूधनाथ सिंह के सम्पादन में इलाहाबाद से प्रकाशित हुआ पर दुर्भाग्य से देश में तुरंत आपातकाल लागू हो जाने के कारण यह पत्रिका बंद हो गयी | एक लम्बे अंतराल के बाद पुनः सन् 2007 से इसका प्रकाशन बिलकुल ही नए सिरे से हो रहा है | श्री दूधनाथ सिंह पत्रिका के संस्थापक सम्पादक हैं | हिन्दी और हिंदीतर दोनों ही क्षेत्रों में अपनी सामग्री और वैविध्य के चलते सभी अंक काफी चर्चित और प्रशंसित हुए हैं | पत्रिका हिन्दी के बुद्धिजीवियों, साहित्यकारों और अकादमिक संस्थानों व पुस्तकालयों में छात्रों द्वारा तो व्यापक रूप से पढ़ी ही जाती है इससे इतर सामान्य पाठकों के बीच भी यह काफी पसंद की जाती है | साहित्य और संस्कृति से सरोकार रखने वाले और रचनात्मक व्यवहारों से समाज की बेहतरी के लिए सोचने और काम करने वाले प्रत्येक व्यक्ति तक पक्षधर की पहुँच सुनिश्चित करना हमारा लक्ष्य है |

सदस्यता :
एक प्रति-75/- रुपये
वार्षिक-200/- संस्थाओं के लिए- 300/- रुपये
(डाक-खर्च सहित)
पंचवार्षिक-1000/- रुपये
आजीवन-2500/- रुपये
विदेश के लिए- 75  डॉलर

संपर्क:
Phone: +91120 6762315/+919560236569
Email: pakshdharwarta@gmail.com
Web: pakshdharwata.blogspot.com

पता और बैंक-खाते का विवरण है
C-4/604, ऑलिव काउंटी, सेक्टर-5 , 
वसुंधरा, गाज़ियाबाद - 201012
पक्षधर
A/C : 31266280438 SBI, Delhi University Branch
IFS code - SBIN0001067
MICR code - 110002030

संपर्क सम्पादक विनोद तिवारी

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

पेज