घटियावली कस्बे में विश्व जनसंख्या दिवस - Apni Maati: News Portal

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

बुधवार, जुलाई 11, 2012

घटियावली कस्बे में विश्व जनसंख्या दिवस


11 जुलाई 2008 चित्तौड़गढ़
प्रयास द्वारा चित्तौडगढ जिले के घटियावली कस्बे में विश्व जनसंख्या दिवस के उपलक्ष में प्रजनन एवं स्वास्थ्य सेवाओं की आमजन तक पहुंच विषय पर दिनांक 11 जुलाई 2012 को डॉ. अंसार मोइनुद्दीन अजमेरी, चिकित्सा प्रभारी अधिकारी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र घटियावली के मुख्य आतिथ्य एवं शिक्षाविद् वरिष्ठ समाजसेवी रघुवीर सिंह शक्तावत की अध्यक्षता में जनसभा का आयोजन किया गया। इस जनसभा में जिले के एराल, नेतावलगढ पाछली, गिलूण्ड एवं घटियावली ग्राम पंचायत क्षेत्र के विभिन्न गांवों के ग्रामीण महिला पुरूषों सहित महिला एवं बाल विकास, स्वास्थ्य विभाग के प्रतिनिधियो ने भाग लिया। 

विश्व जनसंख्या दिवस के उपलक्ष में आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुए डॉ. अंसार मोइनुदीन अजमेरी ने मातृत्व स्वास्थ्य के परिदृष्य को सामने रखते हुए सुरक्षित मातृत्व के लिये निरन्तर प्रयास करने पर जोर दिया। उन्होने कहा कि संस्थागत प्रसव कराने पर ही मातृ मृत्यु एवं शिशु मृत्यु दर में कमी आयेगी। इसके साथ ही डॉ. अजमेरी ने छोटे परिवार की अवधारणा, राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जाने वाली बालिका सम्बल योजना, परिवार कल्याण के लिए चलाये जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की। डॉ. अंसारी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर प्रदत्त निशुल्क दवाइयों और स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं की निर्धारित समयानुसार उपलब्धता के बारे में भी विस्तृत जानकारी प्रदान कर कहा कि कोई भी बीमार व्यक्ति चाहे वह अमीर हो या गरीब इन स्वास्थ्य सेवाओं को प्राप्त कर सकते है। 

प्रयास निदेशक खेमराज चौधरी ने देश में बच्चों और महिलाओं के कुपोषक कि स्थिति का आंकलन करते हुए कहा कि वर्तमान में 50 प्रतिशत से भी अधिक महिलाएं एवं बच्चे कुपोषण के शिकार है। कुपोषण के कारण इनका शारीरिक एवं मानसिक विकास नही हो रहा है। श्री चौधरी ने निःशुल्क दवा योजना और राष्ट्रीय रोजगार गारन्टी कार्यक्रम पर विस्तृत जानकारी प्रदान की। महिला प्रसाविका (ए.एन.एम.) गिलूण्ड श्रीमती कला सेवरिया ने परिवार नियोजन के साधनों की जानकारी देते हुए बताया कि 5 पुरूष नसबन्दी करवाने के लिए लोगों को प्रेरित करने पर सरकार द्वारा 1000/-रूपये प्रोत्साहन राशी के बारे में बताया। महिला प्रसाविका नेतावलगढ पाछली ने बच्चों के टीकाकरण के बारे में विस्तार ने जानकारी प्रदान की। महिला पर्वेक्षक महिला एवं बाल विकास विभाग श्रीमती राजेश्वरी वर्मा ने परिवार नियोजन कार्यक्रम के लिए निर्धारित लक्ष्य को पूर्ण करने के लिए आशा एवं आंगनवाडी कार्यकर्ताओं को पूरजोर प्रयास करने तथा  इस कार्य के लिए ग्रामीण महिला पुरूषों से सहयोग की अपील की। 

कार्यक्रम के अन्त में रघुवीर सिंह शक्तावत ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश की जनसख्यां सुरसा के मुंह की तरह बढती जा रही है। आजादी से पूर्व और बाद की जनसंख्या वृद्वि दर का आंकलन प्रस्तुत किया और कहा कि इस पर मनन करने की आवश्यकता है। उन्होंने घटते बाल लिंगानुपात पर चिन्ता व्यक्त करते हुए कन्या भु्रण हत्या को रोकने, जन्मदर कम करने और बालिका शिक्षा पर जोर देने का आहवान किया। इनके अतिरिक्त श्रीमती सुमन चौहान, भदेसर, सुश्री एकता श्रीमती रेखा नागदा, माधव मेघवाल, रामचन्द्र भील, फुलशंकर शर्मा, पंकज गर्ग आदि ने संदर्भ सेवाएं दी। कार्यक्रम का संचालन रामेश्वर शर्मा ने किया।

 रामेश्वर शर्मा (कार्यक्रम प्रभारी)

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

पेज