कैद निर्दोषों का रिहाई मंच Vaya लखनऊ - Apni Maati: News Portal

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

सोमवार, जून 25, 2012

कैद निर्दोषों का रिहाई मंच Vaya लखनऊ


25 जून 2012,लखनऊ। 
आतंकवाद के आरोप में बंद निर्दोष मुस्लिम नौजवानों को छोड़ने के वादे को याद दिलाने के लिये 30 जून को विधान सभा के सामने धरना दिया जाएगा।  यह जानकारी देते हुए पीयूसीएल के प्रदेश संगठन सचिव राजीव यादव और शाहनवाज आलम ने बताया कि तमाम मानवाधिकार संगठनों और नेताओं ने पिछले दिनों हुई बैठक में इस अभियान को चलाने के लिये प्रदेश स्तरीय ‘आतंकवाद के नाम पर कैद निर्दोषों का रिहाई मंच’ का गठन किया है। जिसके बैनर तले 30 जून को धरना दिया जाएगा। 

धरने की तैयारी के तहत लखनऊ, आजमगढ़, सीतापुर, प्रतापगढ़, बिजनौर, मुरादाबाद और रामपुर समेत कई जिलों में समाजवादी पार्टी द्वारा विधानसभा चुनाव में बेगुनाहों को छोड़ने के वादे से मुकरने के खिलाफ हस्ताक्षर अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने आगे बताया कि मुहीम में इंडियन मुजाहिदीन के नाम पर की जा रही निर्दोष मुस्लिम नौजवानों की गिरफ्तारियों को तत्काल रोकने और खुफिया विभाग और एटीएस द्वारा बनाये गये इस कागजी संगठन पर केंद्र सरकार से श्वेतपत्र की मांग, तारिक कासमी और खालिद मुजाहिद की गिरफतारी की जांच करने के लिये गठित निमेष जांच आयोग की रिपोर्ट सार्वजनिक करने, पीयूसीएल नेता और पत्रकार सीमा आजाद और विश्वविजय को तत्काल रिहा करने, जेलों में बंद नौजवानों की सुरक्षा की गारंटी करने, यरवदा जेल में पिछले दिनों एटीएस और खुफिया विभाग द्वारा की गयी कतील सिद्दीकी की हत्या की सीबीआई जांच कराने, फसीह महमूद को तत्काल प्रस्तुत करने समेत दस सूत्री मांग पत्र पर हस्ताक्षर अभियान चलाया जा रहा है।

इस पूरे अभियान का संचालन कर रहे मो0 शोएब, एडवोकेट ने बताया कि एक तरफ तो समाजवादी पार्टी की सरकार 100 दिन पूरे होने का जश्न मना रही है जबकि उन मुसलमानों के घरों में सियापा पसरा है जिनके बच्चों को जेल से रिहा करने का वादा करके यह सरकार सत्ता में पहंुची है। उन्होंने सपा सरकार पर मुसलमानों को धोखा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि एक तरफ तो सपा नेताओं और कार्यकर्ताओं पर से मुकदमे उठाये जा रहे हैं वहीं दूसरी ओर एटीएस और खुफिया विभाग के जरिये मुसलमानों का उत्पीड़न जारी है। जिसका मिसाल सीतापुर से मौलाना शकील और आजमगढ के मदरसे में पढने वाले दो कश्मीरी छात्रों का यूपी एटीएस द्वारा उठाया जाना है। मो0 शोएब ने बताया कि 30 जून को होने वाले इस धरने में पूरे प्रदेश से आतंकवाद के नाम पर पकडे़ गये लोगांे के परिवार के लोग और आम जनता शामिल होंगे। उन्होंने बताया कि इस अभियान की शुरूआत 24 जून को फूलबाग से हो चुकी है। 25 जून को मौलवीगंज, 26 जून नखाश, अकबरी गेट, बिलौजपुरा, 27 जून चौपटिया, 28 जून खदरा में हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा। 


शाहनवाज आलम,
प्रदेश संगठन
09415254919,

राजीव यादव
सचिव पीयूसीएल
 09452800752

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

पेज