18 अप्रैल,2012को जो कविता पाठ है - Apni Maati: News Portal

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

शनिवार, अप्रैल 14, 2012

18 अप्रैल,2012को जो कविता पाठ है


१८ अप्रैल, २०१२ को जो कविता पाठ है उसीके बारे में बता रहा हूँ| प्रताप राव कदम के साहित्यिक अवदान पर  मदन कश्यप  समीक्षात्मक टिपण्णी करेंगेलीलाधर मंडलोई युवा कवि अशोक कुमार पाण्डेय की कविता पर बोलेंगे | मनोज कुमार सिंह, महेंद्र सिंह बेनीवाल, संजीव कौशल, जसवीर त्यागी और बली सिंह  के रचना संसार का परिचय मिथिलेश श्रीवास्तव देंगे| प्रताप राव कदम और अशोक कुमार पाण्डेय को यह बात अच्छी लगी कि उनके रचना संसार के बारे में मदन कश्यप और लीलाधर मंडलोई बोलेंगे| इस बात को लेकर तमाम लोग उत्साहित हैं कि लिखावट फिर से अपनी पुरानी गति को पा लिया है| कुछ वर्षों कि निष्क्रियता या कहें कि कम सक्रियता के अपने मंद दुआर से बाहर गया है| लिखावट के कुछ कार्यक्रम मसलन 'घर घर कविता' और 'कैम्पस में कविता' काफी लोकप्रिय और चर्चित रहे हैं| ऐसे कार्यक्रम ईधर लगातार हो रहे है|

लिखावट आखिर है क्या? लिखावट  दरअसल लेखकों का एक समूह है जो लेखकों के रचनात्मक सहयोग से चलता है| लेखकों के समूह को फिल्म और रंगमंच समीक्षक अजित राय  मित्र मंडली कहकर संबोधित करते हैं| यह मित्र मंडली पिछले २३ सालों से कविता और विचार को लेकर लिखावट के माध्यम से सक्रिय है| कविता और कविता पाठ को हमेंसा महत्वा दिया है| लिखावट ने पहला कार्यक्रम जनवरी, १९८९ को घर घर कविता के रूप में आयोजित किया था जिसमें हमारे समय के सबसे बड़े और महान कवि रघुवीर सहाय का एकल कविता पाठ हुआ| छोटी सी जगह थी  और तमाम लोग  थे|


योगदानकर्ता / रचनाकार का परिचय :-
मिथिलेश  श्रीवास्तव 
SocialTwist Tell-a-Friend

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

पेज