‘‘थरपणा उच्छव’’ दो दिवसीय प्रांतीय समारोह - Apni Maati: News Portal

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

रविवार, जनवरी 22, 2012

‘‘थरपणा उच्छव’’ दो दिवसीय प्रांतीय समारोह


बीकानेर

राजस्थानी भाषा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी, बीकानेर का 29 वां स्थापना दिवस ‘‘थरपणा उच्छव’’ दो दिवसीय प्रांतीय समारोह के रूप में 24 व 25 जनवरी, 2012  बीकानेर में होगा। इस दो दिसवीय समारोह में राजस्थानी भाषा साहित्य एवं संस्कृति के उन्नयन के लिए उल्लेखनीय कार्य करने वाले इक्कीस भाषा, संस्कृति एवं साहित्य सेवियो को सम्मानित किया जाएगा।

अकादमी अध्यक्ष श्याम महर्षि ने बताया कि ‘थरपणा उच्छव’ समारोह में गृह राज्य मंत्री श्री विरेन्द्र बेनीवाल, बीकानेर के सांसद श्री अर्जुन राम मेघवाल, राज्य विŸा आयोग के अध्यक्ष डॉ. बी.डी. कल्ला, नगर निगम के महापौर श्री भवानी शंकर शर्मा, महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. गंगाराम जाखड़, राजस्थान साहित्य अकादमी के अध्यक्ष श्री वेद व्यास, राजस्थान सिंधी अकादमी के अध्यक्ष श्री नरेश कुमार चंदनानी, राजस्थानी उर्दू अकादमी के अध्यक्ष डॉ. एच.आर. नियाजी, नगर विकास न्यास के अध्यक्ष हाजी मकसूद अहमद को मेहमान के रूप में आमंत्रित किया गया हैं।

उन्होंने बताया कि ‘थरपणा उच्छव’ के प्रथम दिन 24 जनवरी को सायं  6.30 बजे प्रांतीय राजस्थानी कवि सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा, जिसमें नागराज शर्मा (पिलानी), ताऊ शेखावाटी (सवाई माधोपरु), मुकुट मणिराज (कोटा), भागीरथ सिंह भाग्य (झुंझुनूं), भंवरजी भंवर (जयपुर), डॉ. कविता किरण (फालना), रूपसिंह राजपुरी (रावतसर) तथा माधव दरक (कुंभलगढ़) अपनी चुनिंदा रचनाओं से श्रोताओं को मुग्ध करेंगे।
थरपणा उच्छव समारोह में सम्मानित होने वाले साहित्यकारों को  मुरलीधर व्यास नगर स्थित अकादमी भवन परिसर में 25 जनवरी को प्रातः 11.30 बजे आयोजित समारोह में सम्मानित किया जायेगा, जिसमें प्रत्येक को पांच हजार एक सौ रूपए, सम्मान पत्र, शॉल, प्रतीक चिह्न अर्पित कर इक्कीस साहित्यकारों को सम्मानित किया जाएगा। 

सम्मानित होने वालों में बैजनाथ पंवार (चूरू), देवदास रांकावत (बीकानेर), रामपालसिंह राजपुरोहित (जालौर), नागराज शर्मा (पिलानी), महावीर प्रसाद शर्मा (जयपुर), लक्ष्मण सिंह आशिया (राजसमंद), कमला कमलेश (कोटा), सुरेन्द्र अंचल (ब्यावर), गौरी शंकर मधुकर (बीकानेर), सुखदा कछवाह (नई दिल्ली), रशीद अहमद पहाड़ी (छींपा बड़ौद), बुलाकीदास बावरा (बीकानेर), धनजंय वर्मा (बीकानेर), आशा शर्मा (झुंझुनू), बिहारी शरण पारीक (जयपुर), प्रेमलता जैन (कोटा), शरद चन्द्र पंड्या (अहमदाबाद), रधुराजसिंह हाड़ा (झालावाड़), दीपचन्द सुथार (नागौर), नन्द किशोर शर्मा (जैसलमेर) तथा खुशालनाथ धीर (बाड़मेर) शामिल है। अध्यक्ष महर्षि ने बताया कि यह सम्मान ऐसे वरिष्ठ भाषा, साहित्य एवं संस्कृति सृजकों को अर्पित किया जा रहा है, जिनकी वय सŸार वर्ष से अधिक है तथा जिन्हें अब तक राजस्थानी अकादमी से पूर्व में किसी भी तरह का सम्मान अथवा पुरस्कार प्रदान नहीं किया गया है।

अकादमी सचिव पृथ्वीराज रतनू ने बताया कि मंगलवार को अकादमी भवन में अकादमी अध्यक्ष श्री श्याम महर्षि की अध्यक्षता में आयोजित तदर्थ समारोह उपसमिति की बैठक में उपस्थित समारोह समिति के संयोजक वरिष्ठ नाटककार लक्ष्मीनारायण रंगा, समिति के सदस्य डॉ. भैंरूलाल गर्ग (भीलवाड़ा), ओम पुरोहित ‘कागद’ (हनुमानगढ़), एवं शिवदान सिंह जोलावास (उदयपुर) द्वारा उक्त राज्य स्तरीय ‘‘थरपणा उच्छव’’ के साथ ही कोटा, उदयपुर, जोधपुर, भीलवाड़ा, ऋषभदेव, भरतपुर, डूंडलोत (झुंझुनू) व श्रीगंगानगर में संभाग स्तरीय तथा सूरतगढ़, जैसलमेर, बाड़मेर, सीकर, तारानगर (चूरू) एवं जालौर में जिला स्तरीय समारोह स्थानीय संस्थाओं के संयुक्त तत्वावधान में करने की संस्तुति की गयी। ये समारोह मार्च 2012 तक आयोजित होंगे।

पृथ्वीराज रतनू, 
सचिव (फोन : 0151-2210600)
राजस्थानी भाषा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी, 
मुरलीधर व्यास नगर, करमीसर मार्ग, बीकानेर (राज.)-334004

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

पेज