चित्तौड़ में रात्रि चौपाल के निर्णय - Apni Maati: News Portal

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

रविवार, सितंबर 18, 2011

चित्तौड़ में रात्रि चौपाल के निर्णय

चित्तौड़गढ़ ,17 सितम्बर। 
जिला कलक्टर रवि जैन
जिला कलक्टर रवि जैन द्वारा ग्राम पंचायत बोहेडा के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय परिसर में रात्रि चौपाल का आयोजन किया गया, जिसमें भारी संख्या में ग्राम जन उपस्थित हुए। रात्री चौपाल के दौरान कुल 44 पेंशन फार्म प्राप्त हुए जिसमें से मौके पर ही 41 जनों के पेंशन की स्वीकृति जारी कि गई- इनमें 30 वृद्वावस्था 8 विधवा और 3 विकलांग पेंशन स्वीकृत हुई।

जिला कलेक्टर का सरपंच ग्राम पंचायत द्वारा स्वागत किया गया। जिला कलक्टर द्वारा सरकार की विभिन्न लोक कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी गई। इस अवसर पर तहसील विभाग की और से एन.एस.एफ.एम योजना के अन्तर्गत सीडल-कम-फर्टिलाईजर पर बोहेडा के कृषक  मांगीलाल सालवी व  शान्तिलाल को जिला कलेक्टर द्वारा 15-15 हजार रूपये के अनुदान चैक प्रदान किये गये। चौपाल में ग्रामीणों द्वारा बडचड कर भाग लिया गया तथा पानी बिजली एवं सडक का मुद्दा मुख्य रूप से छाया रहा प्रमुख रूप से पंचायत रोडो पर 10-10 लाख स्वीकृति के विरूद्ध केवल मिट्टी भराई के कार्य पर जिला कलेक्टर द्वारा नाराजगी व्यक्त करते हुए ग्राम सेवक को फटकार लगाई तथा उन सडकों की जांच पंचायत समिति के तकनीकी अभियन्ता एवं सहायक अभियन्ता पी.डब्ल्यू.डी के गठित टिम द्वारा जांच के निर्देश दिये। अनियमितता पाई जाने पर ग्राम सेवक से वसुली के निर्देश भी दिये। पटवारी को जियाखेडी बोहेडा की सीमा चिन्ह एवं पंचायत के सहयोग से स्कुल मैदान से अतिक्रमण 3 दिन में हटाने के निर्देश दिये।

 पानी की 48 घण्टे की जल आपूर्ति जे.ईएन., पी.एच.ई.डी के द्वारा बताये जाने पर जन आक्रोश फुट गया तथा बस स्टेण्ड क्षैत्र में चार पांच दिन बाद जलापूर्ति की बात कही। इसका कारण टंकी के दुर होना बताया गया। इस पर जिला कलेक्टर महोदय, द्वारा पुरानी टंकी जो गिरा दी गई उसके प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये गये। रात्री चौपाल में ग्रामीणों के द्वारा साय के वक्त खाना बनाने खाने के टाईम बिजली बन्द होने पर भी आक्रोश किया गया। गैस आपूर्ति व्यवस्था पर भी लोगो ने बताया की गैस वितरण नियमित नही है न ही इसकी कोई तारीख फिक्स है व नही हॉम डिलिवरी की व्यवस्था है। इस पर जिला रसद अधिकारी ने महिने में तीन तारीखे बोहेडा हेतु निश्चित करने के आश्वासन दिया तथा अलग से सब डीलर नियुक्त करने की व्यवस्था नियमों में नही होने की जानकारी दी। ग्राम बोहेडा में नालीयों की मरम्मत व जल निकासी हेतु बी.डी.ओ., ए.ई.एन. पंचायत समिति को दिनांक 17.09.2011 को मौके पर उपस्थित होकर कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। बोहेडा बिलोट मार्ग के खराब होने की ग्रामीणों की शिकायत पर ए.ई.एन. पी.डब्ल्यू.डी को बरसात के बाद ठिक करने तथा अगली किसी योजना में डामरीकरण करने के निर्देश दिये। 

गाडिया लौहारों को पट्टे देने की मांग पर सचिव द्वारा जमीन न होने की बात पर ग्रामीणों द्वारा आधा बीघा जमीन पर अतिक्रमण होने की बात बताई इस पर जिला कलेक्टर द्वारा अतिक्रमण हटाये जाने व पट्टे देने के निर्देश दिये। बस स्टेण्ड के आस पास की सडको पर रोडिया अनियमित ठेले आदि से अतिक्रमण कर रखा जिससे आवागमन में भारी समस्या रहती है। इस पर जिला कलक्टर, द्वारा ग्राम पंचायत व बी.डी.ओ. को 3 दिन में हटवाने के निर्देश दिये। इसके अलावा गांव में उदयपुर व चितौड़गढ़ के लिये बस सेवाओ की भारी कमी, रा.उ.मा.वि. में विज्ञान विषय अध्यापको की कमी, बालिका माध्यमिक विद्यालय को उच्च माध्यमिक विद्यालय में क्रमोनित करने, नये पी.एच.सी. अस्पताल परिसर में स्टाफ क्वार्टर के हेतु बजट आवंटन करने आदि ग्रामीणों द्वारा उठाई गई। बानसी बोहेडा मार्ग पर रेलवे फाटक न होने की बात भी ग्रामीणों द्वारा उठाई जिस पर जिला कलेक्टर द्वारा डी.आर.एम. रेलवे से बात करने का आश्वासन दिया। मुन्नीबाई पत्नि नजीर निवासी पारलीया के द्वारा कॉर्ट द्वारा डिक्री जारी करने के बावजुद नामान्तकरण नही खोलने की शिकायत पर जिला कलेक्टर द्वारा तहसीलदार को दि. 19.09.2011 तक पालना करने के निर्देश दिये गये।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

पेज