चौहदवें आचार्य निरंजननाथ सम्मानों की घोषणा - Apni Maati: News Portal

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

मंगलवार, अक्तूबर 16, 2012

चौहदवें आचार्य निरंजननाथ सम्मानों की घोषणा


  • आचार्य निरंजननाथ सम्मान डॉ असग़र वजाहत को 
  • आलोचक सूरज पालीवाल और युवा आलोचक पल्लव भी सम्मानित होंगे।
राजसमन्द।

डॉ असग़र वजाहत 

16 अक्टूबर 2012. आचार्य निरंजननाथ स्मृति सेवा संस्थान के सहयोग से साहित्यिक पत्रिका संबोधन के माध्यम से प्रति वर्ष दिया जाने वाला 'आचार्य निरंजननाथ सम्मान' हिन्दी के विख्यात साहित्यकार डॉ असग़र वजाहत को प्रदान किया जाएगा।सम्मान समिति के संयोजक और संबोधन के सम्पादक क़मर मेवाड़ी के अनुसार कर्नल देशबंधु आचार्य की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में इन पुरस्कारों की घोषणा की गयी।

आलोचक सूरज पालीवाल
क़मर मेवाड़ी ने बताया कि 14 वाँ आचार्य निरंजननाथ सम्मान डॉ असग़र वजाहत,दिल्ली  को उनकी कथा कृति 'मैं हिन्दू हूँ' पर इक्यावन हजार (51,000/-) रुपये, हिन्दी के युवा आलोचक पल्लव,चित्तौड़गढ़ को दूसरा प्रथम प्रकाशित कृति सम्मान उनके आलोचना निबंध संग्रह 'कहानी का लोकतंत्र' पर ग्यारह हजार (11,000/-) रुपये तथा प्रो सूरज पालीवाल, जोधपुर को उनके समग्र साहित्यिक अवदान पर विशिष्ट साहित्यकार सम्मान ग्यारह हजार (11,000/-) रुपये के साथ शाल,श्रीफल,प्रशस्ति पात्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान किया जाएगा।

14 वें आचार्य निरंजननाथ सम्मान के इस वर्ष निर्णायक थे- प्रख्यात कथाकार एवं समयांतर के सम्पादक पंकज बिष्ट,प्रसिद्द समीक्षक मधुरेश तथा युवा कथाकार हिमांशु पंडया।सम्मान समारोह 9 दिसंबर 2012 को राजसमन्द जिले के कांकरोली नगर में आयोजित होगा।



पल्लव
युवा आलोचक और 'बनास जन' पत्रिका के सम्पादक हैं.
वर्तमान में हिंदी विभाग,हिन्दू कोलेज में सहायक आचार्य हैं.
मूल रूप से चित्तौड़ के हैं ,अब दिल्ली जा बसे हैं.
उनका पता है.
फ्लेट . 393 डी.डी..
ब्लाक सी एंड डी
कनिष्क अपार्टमेन्ट
शालीमार बाग़
नई दिल्ली-110088
 मेल pallavkidak@gmail.com

सूचना स्त्रोत:-

क़मर मेवाड़ी 
संयोजक 
'आचार्य निरंजननाथ सम्मान' 2012
पो- कांकरोली जिला राजसमन्द
राजस्थान 
पिन- 313324
मो- 9829161342
02952-223221

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

पेज